EMAIL

unitefoundationind@gmail.com

Call Now

+91-7-376-376-376

न्यूज़

Airforce day: 6 ऑफिसर्स 19 सिपाही, जानिए कैसे हुई थी इंडियन एयरफोर्स की शुरुआत
08-Oct-2019    |    Views : 000976

आज यानी 8 ऑक्टूबर के दिन इंडियन एयरफोर्स डे मनाया जाता है।

Airforce day: 6 ऑफिसर्स 19 सिपाही, जानिए कैसे हुई थी इंडियन एयरफोर्स की शुरुआत

आज यानी 8 ऑक्टूबर के दिन इंडियन एयरफोर्स डे मनाया जाता है। भारत की शान बढ़ाने वाली वायुसेना ने समय-समय पर अपना दम-खम दिखाया है। आज के दिन भारतीय वायुसेना भव्य कार्यक्रम का आयोजन करती है साथ ही परेड और हवाई शो भी किए जाते हैं। आज एयरफोर्स डे के मौके पर चलिए जानते हैं कि कैसे हुई वायुसेना की शुरुआत।

पहले एयर चीफ मार्शल

आजादी से पहले एयरफोर्स आर्मी के अंडर में थी। एयरफोर्स को आर्मी से अलग कराने का श्रेय इंडियन एयरफोर्स के पहले कमांडर इन चीफ एयर मार्शल सर थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट को जाता है। वह एयरफोर्स के पहले चीफ एयर मार्शल नियुक्त किए गए थे और 3 साल तक वो इस पद पर कार्यरत रहे। वह 15 अगस्त 1947 से 22 फरवरी 1950 तक इस पर रहे देश की आजादी के बाद एयरफोर्स की जिम्मेदारियां भी बदल गई थीं।

देश आजाद होने से पहले इंडियन एयरफोर्स को रॉयल इंडियन एयर फोर्स (RIAF) के नाम से जाना जाता था। इसका गठन अंग्रेजों ने 1 अप्रैल 1933 को किया था। वायुसेना के पहले दस्ते में 6 RAF ट्रेंड ऑफिसर और 19 हवाई सिपाही थे। भारतीय वायुसेना ने सेकेंड वर्ल्ड वॉर में अहम भूमिका  निभाई थी। फिर देश को आजादी मिलने के बाद एयरफोर्स को भी आजादी मिली। अब ये सिर्फ इंडियन एयरफोर्स बन गई और इसकी जिम्मेदारियां भी पूरी तरह से अलग हो गईं।

वायु सेना का आदर्श वाक्य

भारतीय वायु सेना का आदर्श वाक्य है 'नभ: सपृशं दीप्तम' ये श्रीमद भगवत गीता के ग्यारहवें अध्याय से लिया गया है। ये वाक्य महाभारत युद्ध के दौरान कुरूक्षेत्र में भगवान श्री कष्ण के द्वारा अर्जुन को दिए गए उपदेश का एक अंश है।

वायुसेना ध्वज

वायुसेना ध्वज, वायु सेना निशान से पृथक, नीले रंग का है जिसके प्रथम एक चौथाई भाग में राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा बना हुआ है। इसके बीच वाले हिस्से में तिरंगे के तीनों रंकों केसरिया, श्वेत और हरे रंग से बना एक वृत्त (गोलाकार आकृति) है। इंडियन एयरफोर्स ने ये ध्वज 1951 में अपनाया था।

जानें 8 ऑक्टूबर को और किस-किस लिए याद किया जाता है...

1871: बता दें कि 8 ऑक्टूबर को अमेरिका के शिकागो शहर में भयंकर आग लगी थी। बताया जाता है कि इस दिन शिकागो के एक परिवार पैट्रिक और कैथरीन ओलियरी की गाय से बाड़े में उसके पास रखी लालटेन को ठोकर लग गई थी। इस वजह से यह भयंकर आग लगी।
1932: इस दिन ही भारतीय वायु सेना की स्‍थापना हुई थी।
1936: इस दिन ही महान लेखककार प्रेमचंद्र जी का निधन हुआ था।
2003: हॉलीवुड के नामचीन एक टर्मिनेटर जैसी हिट फिल्मों के नायक अर्नोल्ड श्वाजनेगर ने कैलिफोर्निया के गवर्नर को उनका कार्यकाल पूरा होने के तीन साल पहले ही होने वाले चुनाव में हरा कर नया कीर्तिमान रचा था।
2005: आठ अक्टूबर को उत्तरी पाकिस्तान और कश्मीर के क्षेत्रों में भयंकर भूकंप आया था। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 7.9 के पैमाना नापा गया था। भूकंप इस्लामाबाद से 80 किलोमीटर उत्तर पूर्व की ओर था। इस भूकंप में 73 लोगों की जानें गई थी।

Save the Children India, Best NGO to Support Child Rights, Best NGO in Lucknow, Skills Development NGO, Health NGO Lucknow, Education NGO Lucknow, NGO for Women Empowerment, NGO in India, Non Governmental Organisations, Non Profit Organisations, Best NGO in India

 


All Comments

Leave a Comment

विशिष्ट वक्तव्य 

विशिष्ट महानुभावों के वशिष्ट अवसरों पर राय

Facebook
Follow us on Twitter
Recommend us on Google Plus
Visit To Website